एसबीआई डेबिट कार्ड  पिन एक्टिवेट कैसे करें?|SBI Debit Card PIN Generation Process?

SBI Debit Card PIN Generation Process: – डिजिटल इंडिया के इस युग में प्रत्येक संस्था डिजिटलाइज हो रही है। बैंक भी इस श्रेणी में अपना अग्रणी स्थान रखते हैं। नेट बैंकिंग के माध्यम से आप बैंकिंग से संबंधित प्रत्येक कार्य को आसानी से घर बैठे संभव बना सकते हैं। क्या आपको पता है नेट बैंकिंग के माध्यम से डेबिट कार्ड पिन को एक्टिवेट किया जा सकता है? आज हम इस पोस्ट के माध्यम से SBI Debit Card PIN Generation की ऑनलाइन ऑफलाइन प्रक्रियाओं के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान करेंगे। अगर आप SBI Debit Card PIN Generation की सभी विधिया जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को अंत तक अवश्य पढ़ें। 

कुछ दिनों पहले जब नेट बैंकिंग प्रचलन में नहीं था, तो प्रत्येक बैंक द्वारा डेबिट कार्ड अथवा क्रेडिट कार्ड का पिन खाताधारक के घर पर डाक के माध्यम से भेजा जाता था। डेबिट कार्ड अथवा क्रेडिट कार्ड पिन नंबर एक काली पट्टी में छुपा हुआ होता था, जिससे स्क्रैच कर प्राप्त किया जाता था। 

लेकिन आज डिजिटल युग का जमाना है तथा नेट बैंकिंग/मोबाइल बैंकिंग का प्रचलन तेजी से बढ़ रहा है। अब डेबिट कार्ड तथा क्रेडिट कार्ड पिन को जनरेट करने के तरीके को आसान बनाते हुए ट्रेडिशनल क्रेडिट कार्ड अथवा डेबिट कार्ड पिन का स्थान Green PINs ने ले लिया है। ग्रीन पिन के माध्यम से डेबिट कार्ड अथवा क्रेडिट कार्ड के पिन को विभिन्न तरीकों से आसानी से जनरेट किया जा सकता है।  

ग्रीन पिन क्या होता है? What is green pin?

SBI Debit Card PIN Generation की विधियो के बारे में जानने से पहले यह जानना आवश्यक है कि  Green PIN क्या है और  SBI Debit Card PIN Generation में इसका क्या महत्तव है। यह बात विशेष ध्यान देने योग्य है कि Green PIN, वास्तविक पिन नहीं होता है इसे SMS के माध्यम से customer को भेजना काफी मुश्किल है। एक प्रकार से ग्रीन पिन छदम डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड पिन होता है केवल वास्तविक पिन जनरेट करने के काम आता है। एक बार ग्रीन पिन प्राप्त हो जाने के बाद उसकी सहायता से डेबिट कार्ड का वास्तविक पिन जनरेट किया जाता है। भारतीय स्टेट बैंक द्वारा अपने ग्राहकों को वास्तविक डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए various methods के माध्यम से Green PIN generate करने की सुविधा दी गई है।

Green PIN – A Paperless Debit Card PIN Generation

उपरोक्त वर्णित सभी प्रकार की समस्याओं के निदान हेतु सभी सरकारी तथा गैर सरकारी बैंक एक नया फीचर लेकर आए जिसे ‘Green PIN’ के नाम से पुकारा गया। जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है कि यह  डेबिट कार्ड पिन जनरेट करने का पर्यावरण के अनुकूल माध्यम है जो पेपरलेस तकनीक पर आधारित है। ग्रीन पिन feature का उपयोग करते हुए कार्डधारक खुद अपना डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड पिन जनरेट कर सकता है।

SBI’s Green PIN Initiative

SBI Debit Card PIN Generation की विधियो के बारे में जानने से पहले यह जानना आवश्यक है कि  SBI Green PIN क्या है ।सभी सरकारी तथा गैर सरकारी बैंकों के द्वारा डेबिट कार्ड अथवा क्रेडिट कार्ड जारी करने के साथ-साथ सभी प्रकार के ट्रांजैक्शंस ATMs तथा point-of-sale (POS) आदि को सफल बनाने के लिए क्रेडिट कार्ड को इनेबल/एक्टिवेट करने के लिए PIN उपलब्ध कराया जाता है। कुछ समय पहले तक सरकारी एवं गैर सरकारी बैंकों द्वारा कार्डधारक को डेबिट कार्ड तथा क्रेडिट कार्ड पिन पोस्ट/डाक के माध्यम से उसके घर पर भेजा जाता था।  बैंक द्वारा भेजे गए इनको scratch-off चैनल के माध्यम से छिपाया गया होता होता था। जो किसी भी प्रकार की पिन टेंपरिंग को बचाता था। कार्ड होल्डर के पास इन्हें भेजना काफी मुश्किल होता था, जिसको देखते हुए कुछ बैंकों ने डाक तथा कोरियर के माध्यम से वेलकम किट के साथ पिन भेजना शुरू कर दिया था।

अगर कार्ड होल्डर को किसी वजह से अपना पिन चेंज करने की आवश्यकता होती थी तो उसे एटीएम कार्ड/डेबिट कार्ड तथा क्रेडिट कार्ड पिन कोड रीजेनरेट करने के लिए संबंधित बैंक ब्रांच शाखा में आना होगा था। सभी बैंकों द्वारा डाक तथा कुरियर के माध्यम से पिन भेजने का सबसे सामान्य एवं तरीका था। बैंक कर्मचारियों को अपनी निजी कस्टडी में डेबिट कार्ड पिन को रखना होता था जो उनके लिए खुद एक रिस्क होता था। पोस्ट के माध्यम से पिन को भेजने मे समय तथा धन काफी खर्च होता था। अगर डेबिट कार्ड पिन भेजते समय पिन डैमेज हो जाए तो उसे दोबारा से पैकिंग कर भेजना काफी जटिल होता था। दोबारा से पैकिंग करने में अतिरिक्त धन खर्च होता था। डेबिट कार्ड पिन समय पर नहीं पहुंचने की वजह से कार्ड होल्डर को काफी असुविधा होती थी और उसे बार-बार बैंक ब्रांच के चक्कर काटने होते थे। 

SBI Green PIN

SBI Debit Card PIN Generation की विधियो के बारे में जानने से पहले यह जानना आवश्यक है कि  SBI Green PIN क्या है और  SBI Debit Card PIN Generation में इसका क्या योगदान है। State Bank of India (SBI) ने भी ‘Green PIN’ तकनीक को अपनाते हुए एसबीआई कार्ड धारकों को डेबिट, क्रेडिट अथवा एटीएम कार्ड को इनेबल अथवा एक्टिवेट करने के लिए एसबीआई कार्ड पिन जनरेट करने आसान एवं सुविधापूर्ण तरीका ‘SBI Green PIN’ को लॉन्च किया है।  SBI Green PIN पेपरलेस बैंकिंग प्रणाली की तरह भारतीय स्टेट बैंक का बढ़ता हुआ एक नया कदम है। जिसका लाभ बैंक कर्मचारियों तथा ग्राहकों दोनों को समान रूप से हुआ है। 

क्योंकि ग्रीन पिन तकनीक को इस्तेमाल करने के बाद एटीएम पिन  फिजिकल कस्टडी तथा डिस्ट्रीब्यूशन में लगे कर्मचारियों को किसी अन्य काम में इस्तेमाल किया जा सकता है। जबकि ग्राहक द्वारा अपनी सुविधानुसार डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड पिन को समय की बचत करते हुए आसानी से जनरेट किया जा सकता है। इस प्रणाली के प्रचलन में आने के बाद बैंक की एटीएम पिन पर लगने वाली अतिरिक्त कॉस्ट कम हुई है तथा कार्बन फुटप्रिंट में कमी आई है जो पर्यावरण के लिए एक अच्छी बात है। 

SBI Debit Card PIN Generation के तरीके 

भारतीय स्टेट बैंक द्वारा अपने ग्राहकों को वास्तविक डेबिट कार्ड पिन अथवा क्रेडिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए निम्नलिखित सुविधाएं उपलब्ध कराई गई है। 

  • ATM के माध्यम से SBI Debit Card PIN Generate किया जा सकता है। 
  • बैंक अकाउंट से लिंक मोबाइल नंबर द्वारा एसएमएस भेज कर SBI Debit Card PIN Generate करना।
  • एसबीआई कस्टमर केयर रिप्रेजेंटेटिव से संपर्क कर SBI Debit Card PIN Generate किया जा सकता है।
  • एसबीआई नेट बैंकिंग के माध्यम से भी SBI Debit Card PIN Generation की प्रक्रिया सम्पन्न की जा सकती है।

एसबीआई द्वारा अपने ग्राहकों को SBI Debit Card PIN Generation करने के लिए उपलब्ध कराए गए उपरोक्त सभी चैनलों की प्रोसेस लगभग एक समान है। विभिन्न चैनलों द्वारा SBI Debit Card PIN Generation की संपूर्ण प्रक्रिया को नीचे दी गई इमेज से आसानी से समझा जा सकता है।

sbi atm pin generation

आइए, अब SBI Debit Card PIN Generation की विभिन्न चैनलों की प्रक्रिया को एक एक कर समझते हैं।

SBI Debit Card PIN Generation through SBI ATM

अगर आप एसबीआई डेबिट कार्ड पिन को एसबीआई एटीएम मशीन के माध्यम से एक्टिवेट करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम SBI ATM cum debit card प्राप्त होते ही अपने नजदीकी SBI ATMs पर जाएं। 
  • डेबिट कार्ड पिन सेट करने के लिए सबसे पहले ATM के माध्यम से SBI Green PIN जनरेट करें। 
  • SBI Green PIN जनरेट करने के लिए अपना debit card ATM में Insert करें। 
  • इसके बाद ‘PIN Generation‘ के विकल्प का चुनाव करें। 
  • पिन जनरेशन की विकल्प का चुनाव करते ही तुरंत बिना किसी देरी के अपना 11 अंकों का बैंक अकाउंट नंबर दिए गए निर्धारित जगह पर दर्ज करें।
  • कीपैड का प्रयोग करते हुए दोबारा से अकाउंट नंबर को दिए गए  निर्धारित दूसरे कॉलम में भरे और अकाउंट नंबर को कंफर्म करने के लिए ‘Confirm’ के बटन पर क्लिक करें।
  • बैंक अकाउंट नंबर कंफर्म करते ही आपसे बैंक अकाउंट से जुड़े मोबाइल नंबर के बारे में पूछा जाएगा। 
  • दिए गए निर्धारित स्थान पर अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर को दिए गए निर्धारित स्थान पर भरें तथा कंफर्म करने के लिए  ‘Confirm’ की बटन को दबाएं।
  • एटीएम मशीन पर नई विंडो खुल जाएगी तथा अगर आपके द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना सही है तो सिस्टम द्वारा आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर तुरंत ही ग्रीन पिन भेजा जाएगा। 
  • ‘Confirm’ के बटन पर क्लिक करें। स्क्रीन पर एक मैसेज दिखाई देगा कि  ‘Your Green PIN सफलतापूर्वक जनरेट हो गया है और आप तुरंत ही अपने मोबाइल नंबर पर ग्रीन पिन प्राप्त करेंगे। 
  • इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड अर्थात वन टाइम पिन प्राप्त होगा। प्राप्त हुए इस वन टाइम पिन (one time pin) को ही ग्रीन पिन (Green PIN) के नाम से जाना जाता है।
  • ग्रीन पिन की सहायता से वास्तविक Debit Card PIN generate करने के लिए एटीएम मशीन के इंसर्ट बॉक्स से डेबिट कार्ड को हटाए और फिर से इंसर्ट करें। 
  • दिए गए विभिन्न विकल्पों में से  ‘Banking’ के विकल्प का चयन करें। 
  • अपनी सुविधा अनुसार हिंदी, अंग्रेजी अथवा अन्य क्षेत्रीय भाषा का उपलब्ध भाषा विकल्पों में से चुनाव करें।
  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुए वन टाइम पासवर्ड अर्थात ग्रीन पिन को  next screen दिए गए निर्धारित स्थान पर करें।
  • ‘Select Transaction’ menu के अंतर्गत दिए गए विकल्पों में से ‘PIN Change’ के विकल्प का चुनाव करें। 
  • इसके बाद अपनी सुविधा के अनुसार चार अंको का नया पिन दिए गए निर्धारित कॉलम में भरें तथा नए पिन को कंफर्म करने के लिए दिए गए दूसरे कॉलम में वही पिन दोबारा भरें। नये पीन को कंफर्म करें।
  • अगर एसबीआई डेबिट कार्ड पिन एसबीआई एटीएम के माध्यम से जनरेट करने की प्रक्रिया सफलतापूर्वक संपन्न होने पर आपके मोबाइल नंबर पर ‘Your PIN has been changed successfully’ का मैसेज प्राप्त होगा। 
  • आपके द्वारा बनाया गया new PIN आपके SBI ATM Cum Debit Card का वास्तविक पिन होगा।  इस वास्तविक पिंका उपयोग कर सभी प्रकार की लेन देन गतिविधियां जैसे  नगद निकासी, पॉइंट ऑफ सेल तथा ऑनलाइन खरीदारी आदि में किया जा सकता है।  इस प्रकार कोई भी व्यक्ति अपने एसबीआई डेबिट कार्ड का पिन एटीएम मशीन के माध्यम से कुछ ही मिनटों में जनरेट कर सकता है। 

एसएमएस के माध्यम से SBI Card PIN Generation

रजिस्टर्ड मोबाइल द्वारा संदेश भेज कर एसबीआई डेबिट कार्ड के लिए Green PIN जनरेट किया जा सकता है। एसएमएस के माध्यम से SBI Debit Card PIN Generation तथा एसबीआई डेबिट कार्ड वास्तविक पिन जनरेट करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम बैंक अकाउंट से जुड़े मोबाइल नंबर का मैसेज बॉक्स ओपन करें।
  • मैसेज बॉक्स में  “SMS PIN 12345678 (यहां पर 1234 की जगह पर अपने डेबिट कार्ड नंबर के अंतिम चार अंक दर्ज करें तथा 5678 की जगह पर डेबिट कार्ड से जुड़े बैंक अकाउंट नंबर के अंतिम चार अंको को दर्ज करें) Type करें।
  • इस मैसेज को 567676 पर भेज दे। जैसे ही मैसेज एसबीआई बैंक सिस्टम के पास पहुंचता है आपके बैंक अकाउंट के साथ जुड़े हुए इसी रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड प्राप्त होगा। 
  • बैंक द्वारा भेजा गया यह वन टाइम पासवर्ड एसबीआई ग्रीन पिन का काम करेगा जो केवल 2 दिन के लिए मान्य होगा।
  • इसके बाद आपको एसबीआई डेबिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए किसी भी नजदीकी एसबीआई एटीएम पर जाना होगा। 
  • ग्रीन पिन अर्थात बैंक द्वारा रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भेजे गए वन टाइम पासवर्ड की सहायता से वास्तविक Debit Card PIN generate करने के लिए एटीएम में इंसर्ट करें। 
  • दिए गए विभिन्न विकल्पों में से  ‘Banking’ के विकल्प का चयन करें और अपनी सुविधा अनुसार हिंदी, अंग्रेजी अथवा अन्य क्षेत्रीय भाषा का चुनाव उपलब्ध भाषा विकल्पों में से करें।
  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुए वन टाइम पासवर्ड अर्थात ग्रीन पिन को  दिए गए निर्धारित स्थान पर भरें।
  • ‘Select Transaction’ menu के विकल्पों में से ‘PIN Change’ के विकल्प का चुनाव करें। 
  • इसके बाद चार अंको का नया पिन दिए गए कॉलम में भरें तथा नए पिन को  दोबारा भरकर कंफर्म करें।
  • अगर एसबीआई डेबिट कार्ड पिन जनरेट करने की प्रक्रिया सफलतापूर्वक संपन्न होने पर आपके मोबाइल नंबर पर ‘Your PIN has been changed successfully’ का मैसेज प्राप्त होगा। 
  • आपके द्वारा बनाया गया New PIN आपके SBI ATM Cum Debit Card का Actual PIN  होगा। Actual PIN की मदद से सभी प्रकार के लेनदेन की प्रक्रिया संपन्न की जा सकती है।   इस प्रकार कोई भी व्यक्ति अपने एसबीआई डेबिट कार्ड का पिन एसएमएस के माध्यम से  जनरेट कर सकता है। 

SBI Card PIN Generation Through Customer Care

एसबीआई कस्टमर केयर प्रतिनिधि से संपर्क कर एसबीआई डेबिट कार्ड प्राप्त किया जा सकता है। SBI Credit Card Customer Care Helpline पर संपर्क कर रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एसबीआई डेबिट कार्ड पिन प्राप्त करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम SBI toll free customer care नंबर 1800 11 22 11/ 1800 425 3800 तथा 080-26599990 मैं से किसी पर कॉल करें।
  • कंप्यूटर के द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों को ठीक से सुने और ‘ATM and Prepaid Card Services’ के विकल्प का चयन करें।
  • एसबीआई डेबिट कार्ड ग्रीन पिन जनरेट करने के लिए ‘1’ दबाएं।
  • सिस्टम द्वारा आपके डेबिट कार्ड नंबर को दर्ज करने के लिए कहा जाएगा। अपने डेबिट कार्ड नंबर को टाइप करें।
  • आपके द्वारा दर्ज किए गए एसबीआई क्रेडिट कार्ड नंबर को कंफर्म करने के लिए सिस्टम द्वारा उच्चारित किया जाएगा। सिस्टम द्वारा उच्चारित किया गया क्रेडिट कार्ड नंबर सही है तो कंफर्म करें। 
  • इसके बाद आपको डेबिट कार्ड से जुड़े अकाउंट नंबर को एंटर करने के लिए कहा जाएगा। डेबिट कार्ड से लिंक अकाउंट नंबर दर्ज करें।
  • सिस्टम द्वारा दर्ज किए गए अकाउंट नंबर को कंफर्म करने के लिए उच्चारित किया जाएगा। सिस्टम द्वारा उच्चारित अकाउंट नंबर सही है तो उसे कंफर्म करें।
  • एक बार आपके द्वारा उपलब्ध कराया गया विवरण कंफर्म हो जाने पर सिस्टम द्वारा आपको एसएमएस के माध्यम से  One Time PIN (OTP) भेजा जाएगा जो 2 दिनों तक वैध होगा। 
  • एसबीआई डेबिट कार्ड ग्रीन पिन प्राप्त करने के बाद नजदीकी SBI ATM पर विजिट कर उपरोक्त मेथड में बतलाए गए तरीके का इस्तेमाल कर एसबीआई डेबिट कार्ड एक्चुअल पिन जनरेट करें।  

SBI Debit Card PIN Generation through Net Banking 

अब तक वर्णित उपरोक्त तीनों चैनलों के माध्यम से SBI Debit Card PIN Generation के लिए आपको किसी न किसी एसबीआई एटीएम पर जाने की आवश्यकता होती है। लेकिन नेट बैंकिंग के माध्यम से एसबीआई डेबिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए किसी भी एसबीआई एटीएम पर जाने की आवश्यकता नहीं है। अगर कोई एसबीआई अकाउंट होल्डर एसबीआई इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से ऑनलाइन SBI Debit Card PIN Generate करना चाहता है, तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सर्वप्रथम स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें। 
  • एसबीआई की साइट से पर्सनल नेट बैंकिंग का चुनाव करें। पर्सनल नेट बैंकिंग लॉगइन पेज स्क्रीन पर खुल जाएगा।
  • एसबीआई लॉगइन पेज में लॉगइन क्रैडेंशियल्स (यूजर नेम और पासवर्ड) का उपयोग कर लॉगिन करें।
  • लॉग इन करने के बाद आपका अकाउंट डैशबोर्ड खुल जाएगा। मेन मैन्यू से  ‘e-Services के अंतर्गत ‘ATM Card Services’ पर जाएं। 
  • ATM Card Services page से ‘ATM PIN Generation’ के विकल्प का चुनाव करें। 
  • ‘Using One Time Password’ or ‘Using Profile Password विकल्प में से अपनी सुविधानुसार किसी एक विकल्प का चुनाव करें।
  • अगर आपने ‘Using Profile Password’ के विकल्प का चयन किया है तो associated bank account के विकल्प का चुनाव करें और  ‘Submit’ के बटन पर क्लिक करें। 
  • इसके बाद ‘SBI debit card’ विकल्प का चुनाव करें और  ‘Confirm’ के बटन पर क्लिक करें। 
  • ‘Confirm’ के बटन पर क्लिक करते ही आपको ‘ATM PIN Generation’ पेज पर रीडायरेक्ट कर दिया जाएगा। इस पेज पर New PIN generate करने के लिए 2 अंकों का पिन भरना होगा। न्यू पिन के तौर पर दो अंको को भरें और ‘Submit’ के बटन पर क्लिक करें।
  • ‘Submit’ के बटन पर क्लिक करते ही, आपके मोबाइल नंबर पर 2 अंकों का message प्राप्त होगा। 
  • अगले चरण में आपके द्वारा पहले चुने गए 2 अंको तथा एसएमएस के माध्यम से प्राप्त हुए 2 अंको को धीरे स्थान पर भरें तथा ‘Submit’ के बटन पर क्लिक करें।  
  • ‘Submit’ के बटन पर क्लिक करते ही, आपकी मोबाइल नंबर पर ‘ATM PIN has been changed successfully’ का संदेश प्राप्त होगा। 
  • एक बार नया पिन प्राप्त हो जाने के बाद वापस ‘e-Services सेक्शन पर विजिट ATM Card Services का चयन करें।
  • इसके बाद डेबिट कार्ड को एक्टिवेट करने के लिए “ATM Card Services” के अंतर्गत ‘New ATM Card Activation’ की विकल्प का चयन करें।
  • एसबीआई डेबिट कार्ड को एक्टिवेट करने के लिए अंतिम चरण के रूप में एसबीआई एटीएम तथा नेट बैंकिंग के माध्यम से एक ट्रांजैक्शन करें। ट्रांजैक्शन  सफलतापूर्वक संपन्न हो जाने का अर्थ है कि आपका डेबिट कार्ड एक्टिवेट हो जाएगा। अब आप अपने डेबिट कार्ड के माध्यम से किसी भी प्रकार की ट्रांजैक्शन कर सकते हैं।

SBI Debit Card PIN Generation Related FAQs

प्रश्न- 1. क्या बिना बैंक जाए मैं अपना एटीएम पिन ऑनलाइन जनरेट कर सकता हूं?

उत्तर- हाँ, नेट बैंकिंग के माध्यम से आप बैंक शाखा में जाए बिगर बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट के माध्यम से अपने एटीएम कार्ड का पिन change, reset, or generate  कर सकते हैं।

प्रश्न- 2. क्या कोई व्यक्ति डेबिट कार्ड पिन एक्टिवेट किए बिना इस्तेमाल कर सकता है?

उत्तर – नही, अगर आपको डेबिट कार्ड के माध्यम से किसी भी प्रकार के ट्रांजेक्शन को सफलतापूर्वक संपन्न करना है तो उसके लिए सबसे पहले ग्रीन पिन की सहायता से नया पिन जनरेट करना आवश्यक है।

प्रश्न- 3. क्या रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के अलावा किसी अन्य पेंट पर पिन जनरेट करने के लिए ओटीपी प्राप्त किया जा सकता है?

उत्तर- नहीं, ग्रीन पिन की सहायता से एसबीआई डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए बैंक अकाउंट के साथ रजिस्टर्ड मोबाइल आवश्यक है क्योंकि बैंक द्वारा ओटीपी केवल रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ही भेजा जाता है। अगर आपका रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर गुम हो गया है तो सबसे पहले अपने बैंक अकाउंट से मोबाइल नंबर को बदलें। उसके बाद नए मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त कर एसबीआई डेबिट कार्ड पिन जनरेट कर सकते हैं।

प्रश्न- 4. क्या कोई ग्राहक एसबीआई कस्टमर केयर के माध्यम से पिन जनरेट करते समय ओटीपी रजिस्टर्ड नंबर के अलावा किसी अन्य नंबर पर प्राप्त कर सकता है?

उत्तर – नहीं, अगर आप एसबीआई कस्टमर केयर के माध्यम से पिन जनरेट करते समय ग्राहक सेवा प्रतिनिधि से किसी non-registered मोबाइल नंबर पर ओटीपी प्राप्त करने की रिक्वेस्ट करते हैं तो भी बैंक द्वारा ओटीपी केवल रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ही भेजा जाएगा।

प्रश्न- 5. ग्रीन कार्ड पिन किसे कहते है?

उत्तर – Green PIN एसबीआई बैंक की पेपरलेस तकनीक पर आधारित नई पहल है। इस तकनीक के अंतर्गत एसबीआई डेबिट तथा क्रेडिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए ट्रेडिशनल मेथड की तरह किसी पेपर की आवश्यकता नहीं होती हैi इस तकनीक की वजह से पेपर के उपयोग में रुकावट नहीं है तथा कार्बन फुटप्रिंट में कमी आई है जो पर्यावरण के लिए अच्छी बात है।  

य़ह भी अवश्य पढे- What is the Demand Draft Number?

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here