ग्रीन पिन क्या होता है? |What is the Green PIN?

What is Green PIN : – भारत विश्व में सबसे अधिक डेबिट कार्ड प्रयोग करने वाला देश है। भारत में डेबिट कार्ड का प्रयोग करने वाले उपभोक्ताओं की संख्या लगभग 662 million से अधिक है। यहां तक की यह नंबर बढ़ता ही जा रहा है। भारत में डिजिटल युग की शुरुआत हो गई है जिसके कारण आने वाले समय में भारत में डेबिट कार्ड का प्रयोग करने वाले उपभोक्ताओं की संख्या में काफी इजाफा होगा।  (Click Here to Read in English)

जैसे-जैसे ग्राहक डेबिट कार्ड की प्रयोग को बढ़ावा देंगे, तो वे डेबिट कार्ड के लिए आवेदन कर डेबिट कार्ड प्राप्त करेंगे। अक्सर देखा गया है कि बैंक द्वारा डेबिट कार्ड प्राप्त होने पर कार्डधारक द्वारा डेबिट अथवा क्रेडिट कार्ड को एक्टिवेट करने में काफी समस्या का सामना करना पड़ता है। अगर आपको भी डेबिट कार्ड पिन एक्टिवेट करने में किसी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो आप इस पोस्ट को पढ़कर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। इस पोस्ट में क्रेडिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए आवश्यक Green PIN Generate करने के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की जाएगी। 

आमतौर पर ग्रामीण इलाकों के डेबिट कार्ड धारकों को डेबिट कार्ड पिन जनरेट करने में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।  डेबिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए उन्हें किसी ना किसी की हेल्प की आवश्यकता होती है।  ग्राहकों की इन्हीं समस्याओं को ध्यान में रखते हुए बैंक प्रणाली द्वारा पेपरलेस ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देते हुए कार्ड होल्डर को आसान और अधिक सुविधाजनक तरीके से डेबिट कार्ड पिन जनरेट करने के लिए Green PIN की अवधारणा को लागू किया है। भारतीय स्टेट बैंक द्वारा Green PIN को सन् 2016 में पहली बार प्रयोग में लाया गया था। 

भारत में सरकारी एवं गैर सरकारी क्षेत्र के अधिकांश बैंकों द्वारा डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड जारी करते समय ATMs और point-of-sale (POS) terminals पर यूसेज को अनेबल करने के लिए पिन उपलब्ध कराया जाता है।

How Does Green PIN Work?

भारत में कुछ समय पूर्व ही पेपरलेस ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देते हुए बैंकिंग प्रणाली ने Green PIN की शुरुआत हुई है। Green PIN बैंकिंग प्रणाली में पेपरलेस तकनीक के रूप में धीरे-धीरे प्रसिद्ध हो रही है, पर्यावरण के साथ-साथ बैंक कर्मचारियों तथा कार्ड धारकों के लिए भी लाभदायक है। 

ग्रीन पिन प्रणाली का उपयोग कर कार्डधारक  internet banking, SMS, IVR, तथा ATM आदि माध्यमों का उपयोग कर अपने डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड तथा एटीएम कार्ड को एक्टिवेट करने के लिए Green PIN Generate कर सकते हैं। ग्रीन पिन तकनीक के माध्यम से बैंकिंग प्रणाली तेजी से पेपरलेस की तरफ बढ़ रही है। जिससे खर्च होने वाले पेपर तथा कार्बन फुटप्रिंट में भारी कमी आई है।  

ग्रीन पिन तकनीक के क्या क्या लाभ है? 

बैंकिंग प्रणाली में Green PIN पेपरलेस तकनीक का इस्तेमाल होने से निम्नलिखित लाभ हो रहे हैं।

  • कुछ समय पहले एटीएम पिन को बैंक कर्मचारी की फिजिकल कस्टडी में रखा जाता था जो काफी रिस्की होता था। ग्रीन पिन प्रणाली को अपनाने से एटीएम कार्ड पिन कोड फिजिकल कस्टडी में रखना जरूरी नहीं है। जिसके कारण बैंक को होने वाले अतिरिक्त खर्च में कमी आई है तथा इस कार्य हेतू नियुक्त कर्मचारी की सेवाओं का लाभ अन्य कार्यों में लिया जा सकता है।
  • कार्ड धारक को अब अपने एटीएम पिन को प्राप्त करने के लिए बैंक शाखा में जाने की आवश्यकता नहीं है।
  • Green PIN तकनीक के इस्तेमाल से सरकारी एवं गैर सरकारी क्षेत्रों के बैंकों में carbon footprint में कमी आई है। 
  • इस प्रणाली के प्रयोग से ग्राहकों को अनावश्यक रूप से पिन जनरेट करने में होने वाली देरी में कमी आई है। अब कस्टमर डेबिट कार्ड प्राप्त होने वाले दिन ही अपना पिन जनरेट कर डेबिट कार्ड एक्टिवेट कर सकते हैं। 
  • ग्रीन पिन अवधारणा के शुरू होने से बैंकों द्वारा ट्रेडिशनल माध्यम courier or post से एटीएम पिन भेजने में लगने वाले अतिरिक्त खर्च में कमी आई है अर्थात यह तकनीक cost-effective है।

What is the Demand Draft Number?

How Can a Cardholder Generate Green PIN?

अगर आपने डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड अथवा एटीएम कार्ड के लिए आवेदन किया है तो आप कार्ड प्राप्त होने पर ग्रीन पिन तकनीक का इस्तेमाल करते हुए internet banking, ATM or customer care सेवा के माध्यम से अपना Green PIN Generate कर एटीएम कारण एक्टिवेट कर सकते हैं। अगर आप ग्रीन पिन तकनीक का उपयोग करते हुए अपने कार्ड के लिए ग्रीन पिन जनरेट करना चाहते हैं तो ATM, IVR, SMS तथा Missed Call के माध्यम से Green PIN Generate करने के तरीकों पर विस्तार पूर्वक जानकारी नीचे प्रदान की गई है। 

Generate Green PIN by an ATM

अगर आप एटीएम का प्रयोग करते हुए Green PIN Generate करना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। 

  • जैसे ही कार्ड होल्डर को डेबिट कार्ड प्राप्त होता है सर्वप्रथम अपने नजदीकी एसबीआई एटीएम पर विजिट करें।
  • अपने डेबिट कार्ड को एटीएम मशीन के इंसर्ट बॉक्स में डालें। डेबिट कार्ड इंसर्ट करते ही एटीएम स्क्रीन पर मेन मिनी खुल जाएगा। 
  • नेवीगेशन मेनू  ‘PIN Generation’   का विकल्प दिखाई देगा। ‘PIN Generation’ के विकल्प को दबाएं।
  • सिस्टम द्वारा आपसे 11-digit account number मांगा जाएगा। अपने 11 अंकों का अकाउंट नंबर दिए गए फील्ड में दर्ज करें। 
  • अकाउंट नंबर कंफर्म करने के लिए दोबारा से दिए गए निर्धारित फील्ड में वही अकाउंट नंबर भरें। अकाउंट नंबर कंफर्म करने के लिए ‘Confirm’ के टैब को दबाए।
  • इसके बाद अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर को दो बार दिए गए निर्धारित स्थान पर भरें तथा मोबाइल नंबर को कंफर्म करें।
  • आपके द्वारा उपलब्ध कराई गई सूचना को सिस्टम द्वारा बैंक अकाउंट से मैच किया जाएगा। जैसे ही सिस्टम द्वारा रिकॉर्ड को मैच कर लिया जाता है, तो स्क्रीन पर ‘Your Green PIN will be shortly delivered to your registered mobile number’ का मैसेज डिस्प्ले हो जाएगा। 
  • जैसे ही आप  ‘Confirm’ के बटन पर दोबारा क्लिक करते हैं तो तो आपके सिस्टम की स्क्रीन पर  ‘Your Green PIN generation has been successful and you will receive the same on your registered mobile number.’ प्रदर्शित हो जाएगा।
  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर सिस्टम द्वारा भेजा गया One Time PIN (OTP) प्राप्त होगा, जो केवल 2 दिन के लिए मान्य होगा। 
  • आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुआ One Time PIN (OTP) कि आपका ग्रीन पिन है जिसकी सहायता से आप अपना एटीएम पिन जनरेट कर सकते हैं।

Generate Green PIN through SMS

लगभग अधिकांश सार्वजनिक एवं प्राइवेट बैंकों ने अपने ग्राहकों को एसएमएस सेवा के माध्यम से Green PIN Generate करने की सुविधा प्रदान की है। लेकिन ध्यान रहे Green PIN Generate करते समय अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से ही एसएमएस करें। अगर आप एसएमएस सेवा के माध्यम से Green PIN Generate करना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम अपने रजिस्टर्ड मोबाइल के मैसेज बॉक्स को ओपन करें, मैसेज बॉक्स में PIN ABCD EFGH फॉर्मेट के रूप में सूचना टाइप करें और उसे एसबीआई एसएमएस सर्विस नंबर 567676 पर भेज दें। 
  • ध्यान रहे टेक्स्ट फॉर्मेट में ABCD आपके डेबिट कार्ड के अंतिम 4 डिजिट कोरी प्रजेंट करता है जबकि EFGH आपके डेबिट कार्ड से जुड़े बैंक अकाउंट नंबर के अंतिम चार अंको को रिप्रेजेंट करता है। 
  • जैसे ही आपका उपरोक्त SMS टेक्स्ट सिस्टम को प्राप्त होता है, आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर  OTP प्राप्त होगा।
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुआ वन टाइम पासवर्ड 2 दिन के लिए वैध होता है। अतः कार्ड धारक ध्यान रखें की 2 दिन के अंदर अंदर अपने नजदीकी SBI ATM पर जाकर अपने डेबिट कार्ड का पिन अवश्य जनरेट कर ले अन्यथा यह वन टाइम पासवर्ड अमान्य हो जाएगा।

Generate Green PIN using IVR

अधिकांश सार्वजनिक एवं प्राइवेट बैंकों ने अपने ग्राहकों को कस्टमर केयर हेल्पलाइन नंबर अथवा आईवीआर सेवा के माध्यम से Green PIN Generate करने की सुविधा प्रदान की है। कार्डधारक अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से कस्टमर केयर सर्विस नंबर डायल कर  Green PIN Generate कर सकता है। कस्टमर केयर सर्विस हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से Green PIN Generate करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। 

  • सर्वप्रथम ग्रीन पिन जनरेट करने के लिए IVR Call सेवा के अंतर्गत डेबिट कार्ड से संबंधित बैंक के टोल फ्री नंबर पर संपर्क करें।
  • IVR Call सर्विस के अंतर्गत इंस्ट्रक्शन को ध्यान से सुने और सिस्टम द्वारा read out की गई सेवाओं में से  ‘ATM and Prepaid Services’ विकल्प का चयन करें।
  • आइजीआर दिशा निर्देशों का पालन करते हुए अपने डेबिट कार्ड नंबर को दो बार दर्ज करें। सिस्टम द्वारा आपके द्वारा दर्ज किए गए डेबिट कार्ड नंबर को उच्चारित किया जाएगा। अगर आपके द्वारा दर्ज किया गया नंबर उच्चारित नंबर से मेल खाता है तो उसे कंफर्म करें।
  • प्रोसेस के दौरान कार्डधारक से डेबिट कार्ड से जुड़े हुए अकाउंट नंबर को दो बार दर्ज करने की रिक्वेस्ट की जाएगी। डेबिट कार्ड से जुड़े हुए अकाउंट नंबर को दर्ज करें। 
  • कंफर्म करने के लिए सिस्टम द्वारा दर्ज किए गए अकाउंट नंबर को उच्चारित किया जाएगा। अगर अकाउंट नंबर सही है तो उसे कंफर्म करें। 
  • कार्डधारक द्वारा मांगी गई सभी सूचनाएं कंफर्म करने के बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर SMS के माध्यम से One Time Password (OTP) प्राप्त होगा। 
  • यह वन टाइम पासवर्ड 2 दिन के लिए मान्य होता है। अपने नजदीकी बैंक एटीएम पर जाकर  debit card PIN जनरेट कर सकते हैं।

How to Close Axis Bank Account Online in Hindi?

Generate Green PIN using Internet Banking

कार्डधारक Green PIN Generate करने के लिए इंटरनेट बैंकिंग का सहारा भी ले सकता है। इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से Green PIN जनरेट करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सर्वप्रथम डेबिट कार्ड से संबंधित बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं। आधिकारिक वेबसाइट के होमपेज से पर्सनल नेट बैंकिंग के लोग इंफेक्शन पर जाएं।
  • लॉगइन सेक्शन में अपने पासवर्ड तथा user-id का प्रयोग करते हुए अपने बैंक अकाउंट में लॉगिन करें।
  • नेवीगेशन मेनू में ‘Cards’ के विकल्प का चयन करें। ‘Cards’ के विकल्प के अंतर्गत ‘PIN generation’ के विकल्प का चुनाव करें। 
  • ड्रॉपडाउन सूची से उस डेबिट कार्ड का चयन करें जिसके लिए Green PIN Generate करना चाहते हैं। 
  • पूछी गई तमाम सूचनाओं को एक एक कर कंफर्म करें। सभी सूचनाएं कंफर्म होते ही आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP  प्राप्त होगा।
  • ओटीपी प्राप्त होने के बाद प्राप्त हुई ओटीपी को निर्धारित स्थान पर भरकर वैलिडेट करें।
  • वन टाइम पासवर्ड एक बार वैलिडेट हो जाने के बाद आप अपने डेबिट कार्ड पिन को नेट बैंकिंग के माध्यम से ही जनरेट कर सकते हैं। 

Generate Green PIN through missed call

डेबिट कार्ड धारक मिस कॉल सेवा के माध्यम से भी Green PIN Generate कर सकता है। मिस्ड कॉल बैंकिंग सेवा के माध्यम से ग्रीन पिन जनरेट करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें। इसके लिए आवश्यक है कि जिस बैंक में आपका डेबिट कार्ड जारी किया है उसने मिस्ड कॉल सेवा उपलब्ध कराई हो।

  • सर्वप्रथम डेबिट कार्ड जारी करने वाले बैंक के toll-free missed call service number पर अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से कॉल करें।
  • मिस कॉल सेवा नंबर पर करते ही  automatically आपकी कॉल डिस्कनेक्ट हो जाएगी।
  • कॉल डिस्कनेक्ट होते ही सिस्टम द्वारा एक वन टाइम पासवर्ड जनरेट होगा जो मैसेज के माध्यम से आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP प्राप्त होगा। 
  • एटीएम कार्ड को एक्टिवेट करने के लिए अपने बैंक के नजदीकी एटीएम पर जाएं। एटीएम कार्ड को इंसर्ट करें।
  • डिस्पले स्क्रीन पर नेवीगेशन मेनू डिस्प्ले हो जाएगी। नया एटीएम पिन जनरेट करने के लिए  ‘Generate ATM PIN’ के विकल्प का चुनाव करें।
  • इसके बाद  ‘Validate OTP’ के विकल्प का चयन करें। रजिस्टर मोबाइल नंबर पर प्राप्त हुए ओटीपी को दर्ज करें और ओटीपी वैलिडेशन के लिए रिक्वेस्ट आईडी पर जनरेट करें। 
  • ओटीपी verification संपन्न हो जाने के बाद अपना नया डेबिट कार्ड पिन जनरेट करें।  किसी भी प्रकार की ट्रांजैक्शन के दौरान इस डेबिट कार्ड पिन का प्रयोग करना आवश्यक होगा।

How to Generate Green PIN related FAQs

प्रश्न- 1. क्या ग्रीन पिन तकनीक सुरक्षित है ?

उत्तर – हां, ग्रीन पिन टेक्निक बिल्कुल सुरक्षित है। ग्रीन पिन तकनीक का उपयोग पेपर लिस्ट ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया गया है। इस तकनीक के माध्यम से आपके डेबिट कार्ड द्वारा की गई ट्रांजैक्शन को सुरक्षित किया जाता है।

प्रश्न- 2. कार्ड धारक Green PIN Generate कैसे कर सकता है?

उत्तर- ग्रीन पिन जनरेट करने के लिए कार्ड धारक अपने रजिस्टर मोबाइल नंबर से एक SMS PIN ABCD EFGH फॉर्मेट में टाइप कर 567676 पर भेजें। ध्यान रहे टेक्स्ट फॉर्मेट में ABCD के स्थान पर अपने डेबिट कार्ड नंबर के अंतिम 4 डिजिट को दर्ज करें जबकि EFGH के स्थान पर डेबिट कार्ड से लिंक अकाउंट नंबर के अंतिम 4 डिजिट को दर्ज करें। यह मैसेज सिस्टम को प्राप्त होते ही रजिस्टर्ड मोबाइल पर वन टाइम पिन प्राप्त होगा जो 2 दिन के लिए मान्य होगा।

प्रश्न- 3. क्या ग्रीन पिन कोड ऑनलाइन जनरेट किया जा सकता है?

उत्तर- हां, ग्रीन पिन कोड ऑनलाइन माध्यम से भी गलत किया जा सकता है। इसके लिए संबंधित बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर कार्ड सेक्शन के अंतर्गत जनरेट न्यू प्रिय के विकल्प का चयन कर आप सफलतापूर्वक Green PIN Generate कर सकते हैं।

यह भी पढे – What is the Difference Between Term And Whole Life Insurance Plans?

3 COMMENTS

  1. […] How to Generate Green PIN: – India is the largest debit card user country in the world. The number of users using debit cards in India is more than 662 million. Even this number is increasing. The digital age has started in India, due to which the number of consumers using debit cards in India will increase significantly in the coming times. (हिन्दी में पढने के लिए यहा क्लिक करे।) […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here