टर्म तथा संपूर्ण जीवन बीमा में अन्तर क्या है? |Difference Between Term And Whole Life Insurance Plans

Difference Between Term and Whole life insurance – टर्म इंश्योरेंस और संपूर्ण लाइफ इंश्योरेंस दो अलग-अलग अवधारणाएं हैं। अर्थात दोनों अलग-अलग प्रोडक्ट है, जो उपभोक्ताओं की अलग-अलग आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए तैयार किए गए हैं।  उपभोक्ता अपने भविष्य के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए वित्तीय आवश्यकता के आधार पर उपरोक्त दोनों उत्पादों में से किसी भी एक उत्पाद का चयन कर सकता है।   

अगर आप इंश्योरेंस प्लान लेने की योजना कर रहे हैं, तो आपको इंश्योरेंस एजेंट के द्वारा संभवतया term insurance plans तथा whole life insurance plans के बारे में अवश्य बतलाया जाएगा। kd

उपरोक्त वर्णित दोनों प्लान में उपलब्ध कराए गए आवश्यक बेनिफिट्स पॉलिसी tenure के दौरान पॉलिसी धारक की मृत्यु हो जाने पर बहुत सी बातों में भिन्न-भिन्न होते हैं। 

Term insurance क्या है?

टर्म तथा सम्पूर्ण जीवन बीमा के बीच अन्तर (Difference Between Term and Whole Life Insurance) को जानने से पहले  Term Insurance क्या के बारे में जानना अति आवश्यक है। Term insurance एक प्रकार का जीवन बीमा है, जिसके अंतर्गत पॉलिसी धारक द्वारा एक निश्चित अवधि तक निर्धारित राशि प्रतिमाह जमा कराई जाती है।  अगर पॉलिसी धारक की मृत्यु पॉलिसी अवधि के दौरान  हो जाती है , तो डेथ बेनिफिट्स पॉलिसी धारक के नॉमिनी को प्रदान किए जाते हैं।

अगर पॉलिसी की अवधि समाप्त हो जाती है अर्थात पॉलिसी मैच्योर होने पर पॉलिसी धारक को किसी प्रकार के बेनिफिट्स नहीं दिए जाते हैं। संक्षेप में कहा जाए तो यह एक प्रकार का जीवन बीमा है जो पॉलिसी धारक की मृत्यु के उपरांत ही पॉलिसी के लाभ धारक के नॉमिनी को दिए जाते हैं। अगर पॉलिसी धारक पॉलिसी अवधि समाप्त होने तक जीवित रहता है तो उसे किसी प्रकार का बेनिफिट नहीं दिया जाता है। 

अतः term insurance policies को कभी-कभी  pure life insurance policies के रूप में भी पुकारा जाता है ‌ क्योंकि एक निश्चित अवधि के दौरान पॉलिसी धारक द्वारा न्यूनतम धनराशि जमा कर मृत्यु होने पर अधिक मात्रा में धनराशि प्राप्त की जा सकती है। 

टर्म इंश्योरेंस का चुनाव करते समय sum assured or tenure का चुनाव करते समय ग्राहक व्यक्तिगत रूप से फ्लैक्सिबिलिटी प्राप्त कर सकता है।

हालांकि टर्म इंश्योरेंस प्लान के लाभ अन्य जीवन बीमा पॉलिसीज की मात्रा में काफी सीमित है। क्योंकि टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी में maturity or survival benefit प्रदान नहीं किए जाते हैं।

अगर आप बचत एवं इन्वेस्टमेंट के लिए बीमा पॉलिसी का चुनाव कर रहे हैं तो यह आपके लिए अच्छा विकल्प नहीं हो सकता है। इसमें केवल पॉलिसी धारक की मृत्यु के उपरांत ही मृत्यु से संबंधित लाभ दिए जाते हैं।

Whole life insurance पॉलिसी क्या है?

टर्म तथा सम्पूर्ण जीवन बीमा के बीच अन्तर (Difference Between Term and Whole Life Insurance) को जानने से पहले  Whole Life Insurance क्या के बारे में जानना अति आवश्यक है। Whole life plans एक प्रकार का संपूर्ण जीवन बीमा है जो बीमा धारक को sum assured, tenure चुनाव में फ्लैक्सिबिलिटी देता है। अर्थात पॉलिसी धारक अपनी भविष्य की आवश्यकताओं तथा वित्तीय जरूरतों को देखते हुए sum assured तथा tenure का चुनाव कर सकता है। 

यह बीमा पॉलिसी धारक को चुने गए बीमा प्लान के मुताबिक survival or maturity benefits उपलब्ध कराता है। इस प्रकार की पॉलिसी के अंतर्गत पॉलिसी धारक द्वारा एक निश्चित समय अवधि तक प्रीमियम जमा कराया जाता है तथा पॉलिसी की मैच्योरिटी के बाद पॉलिसी धारक को पहले से निर्धारित प्लान के मुताबिक लाभ प्रदान किए जाते हैं।  पॉलिसी धारक संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी पर बीमा कंपनी से न्यूनतम दर पर ऋण हासिल कर सकता है। इस पॉलिसी पर पॉलिसी धारक सर्वाइवल बेनिफिट के तौर पर lump sum as survival benefit, प्रीमियम पर सगरेगेट पेआउट तथा मेच्योरिटी बेनिफिट प्राप्त किए जा सकते हैं।

संक्षेप में, संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी जरूरी रूप से लाइफ टाइम पॉलिसी धारक को कवर प्रदान करती हैं।  

Difference between Term and Whole Life Insurance

टर्म तथा सम्पूर्ण जीवन बीमा के बीच अन्तर (Difference Between Term and Whole Life Insurance) को निम्नलिखित मुख्य बिन्दुओ के आधार पर समझा जा सकता है। 

Premium

  • Term insurance policies में संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी की तुलना में बहुत कम प्रीमियम अदा किया जाता है। 
  • संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी में प्रीमियम पॉलिसी अवधि तक एक समान रूप से भरा जाता है, जबकि टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी में पॉलिसी को रिन्यू करते समय डायनामिक प्रीमियम जमा करना होता है। 
  • टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी में प्रीमियम रिफंड नहीं किया जाता है। पॉलिसी धारक की मृत्यु के उपरांत ही पॉलिसी में वर्णित टर्म्स एंड कंडीशन के आधार पर प्रीमियम बेनिफिट प्रदान किए जाते हैं। जब तक रिफंड नहीं किया जाता
  • जबकि Whole life plans में पॉलिसी धारक के पॉलिसी अवधि के समाप्त होने पर भी पॉलिसी खरीदते समय तय किए गए लाभ प्रदान किए जाते हैं।  

Tenure

  • टर्म इंश्योरेंस  पॉलिसी में बीमा धारक को एक निश्चित अवधि तक बीमा प्रदान किया जाता है। जहां तक पॉलिसी के बेनिफिट्स लागू होते हैं।   जबकि संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी उपभोक्ता को फ्लैक्सिबल समय अवधि प्रदान करती है। आमतौर पर संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी में 100 वर्ष की उम्र तक पॉलिसी चुनने का अधिकार दिया जाता है। 

Cash value

  • संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी में पॉलिसी धारक द्वारा दिए जा रहे प्रीमियम को कंपनी द्वारा विभिन्न प्रोटेक्शन फंड्स में इन्वेस्ट किया जाता है। अगर इन्वेस्ट की गई राशि में लाभ होता है तो कंपनी द्वारा पॉलिसी धारक को अतिरिक्त बोनस दिया जाता है। जबकि टर्म इंश्योरेंस में इस प्रकार का कोई बोनस डिक्लेअर नहीं किया जाता है। 
  • संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी के अंतर्गत जमा किए गए प्रीमियम राशि पर कंपनी से न्यूनतम दर पर ऋण प्राप्त किया जा सकता है जबकि टर्म लाइफ इंश्योरेंस में ऐसा नहीं किया जा सकता है। पॉलिसी धारक द्वारा ली गई रिन राशि को सम एश्योर्ड अमाउंट से निकालकर उसमें ऋण राशि पर लगने वाले ब्याज को घटा दिया जाता है। यह भविष्य में जमा किए जाने वाले प्रीमियम पर कोई प्रभाव नहीं डालता है। जबकि टर्म इंश्योरेंस द्वारा इस प्रकार की कोई सुविधा प्रदान नहीं की जाती है।
  •  संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी सेविंग अथवा प्रोटक्शन प्लान दोनों की तरह काम करता है जबकि टर्म लाइफ इंश्योरेंस मृत्यु के अतिरिक्त किसी प्रकार के अन्य लाभ प्रदान नहीं करता है।

संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी तथा टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी में किसका चुनाव बेहतर है?

टर्म तथा सम्पूर्ण जीवन बीमा के बीच अन्तर (Difference Between Term and Whole Life Insurance) को जानने के बाद मुझे विश्वास है कि आप अपने लिए बेहतर बीमा चुन सकते है। अगर आप मेरी राय जानना चाहते है, तो आदर्श रूप में देखा जाए, तो अगर आप अनमैरिड हैं और आपकी उम्र 30 वर्ष से 30 वर्ष के बीच है तो टर्म इंश्योरेंस प्लान आपके लिए अच्छा विकल्प हो सकता है। क्योंकि यह प्लान न्यूनतम प्रीमियम में आप को अधिकतम प्रोटेक्शन बेनिफिट प्राप्त कर सकता है। 

अगर आपको किसी प्रकार की शारीरिक बीमारी है तो टर्म इंश्योरेंस आपको न्यूनतम अवधि में अधिकतम बेनिफिट प्रदान कर सकता है।  

लेकिन अगर आप एक विवाहित व्यक्ति हैं और आपके बच्चे हैं तो आपको टर्म इंश्योरेंस तथा संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी दोनों में इन्वेस्ट करना चाहिए। ताकि अगर आप ना रहे तो आपकी अनुपस्थिति में आपके परिवार को टर्म इंश्योरेंस एक बेहतर वित्तीय प्रोटेक्शन प्रदान कर सके। अगर आप जिंदा है तो संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी आपको कैश वैल्यू उपलब्ध कराएगी जिसे आप जीवन के विभिन्न अवसरों पर इस्तेमाल कर सकते हैं।  

अगर आपकी उम्र 40 वर्ष से अधिक है तो संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी आपके लिए अधिक श्रेष्ठ है। क्योंकि संपूर्ण जीवन बीमा पॉलिसी पूरे जीवन आपको कवर प्रदान करेगी। साथी उम्र के इस पड़ाव पर यह पॉलिसी टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी से प्रीमियम में सस्ती पड़ेगी।  अगर आप चाहते हैं कि आप अपने जीवन के अंतिम क्षणों में अपने परिवार के लिए एक बहुत बड़ी धनराशि विरासत के तौर पर छोड़कर जाएं तो इस उम्र में भी टर्म इंश्योरेंस को चुन सकते हैं। 

इस पोस्ट के माध्यम से Difference Between Term and Whole Life Insurance शिर्षक पर विस्तार से जानकारी दी गयी है। मुझे विश्वास है कि आप लोगो Term Life Insurance & Whole Life Insurance में अन्तर को सही सही समझ गये होगे और अब अपने लिए अपनी आवश्यकताओ को ध्यान में रखते हुए सही बिमा पॉलिसा का चुनाव कर पायेगे। 

Read Also : – How To Convert Credit Card Payment To EMI In HDFC Bank?

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here